अर्की खुलेआम घूम रहे सांडों ने चोटिल किया कई राहगीरों को

36

अर्की : उपमंडल मुख्यालय पर आवारा सांडों का आतंक दिनों दिन बढ़ता ही जा रहा है परंतु प्रशासन तथा नगर पंचायत इनके आतंक को रोकने में कामयाब नहीं हो सके हैं । यह सांड अब तक कई लोगों को गंभीर रूप से घायल कर चुके हैं

मंगलवार रात एक सांड ने वार्ड नंबर 4 के रहने वाले संटी नामक एक व्यक्ति को घायल कर दिया । उसे तुरंत अस्पताल ले जाया गया जहां उसे 8 टांके लगाने पड़े । इससे पूर्व हाल ही में वार्ड नंबर दो के एक 70 वर्षीय बुजुर्ग को भी इस सांड ने पुराने बस स्टैंड के समीप घायल कर दिया था । यही नहीं यह सांड इससे पूर्व भी अनेकों लोगों को घायल कर चुके हैं । गत वर्ष वार्ड नंबर 4 की ही एक अन्य महिला को भी एक सांड ने बुरी तरह घायल कर दिया था जिसे लगभग 12 टांके लगाने पड़े थे । ज्ञात हो कि यह सांड अर्की बाजार व चौगान में खुले घूमते रहते हैं जहां इनका लोगों को और अधिक बना रहता है । क्योंकि एक ओर जहां अर्की बाजार में लोगों की आवाजाही बनी रहती है वहीं यहां पर तीन सरकारी स्कूल हैं जिनमे से एक प्राथमिक स्कूल भी है ।

ऐसे में इन सांडों का इस प्रकार खुले आम घूमना खतरे से खाली नहीं है । लोगों का कहना है कि ये आवारा सांड कभी भी जानलेवा साबित हो सकते हैं आठ इन्हें जल्दी ही गौसदन भेजा जाना चाहिए । हालांकि नगर पंचायत में भी गौसदन बने लगभग 5 वर्ष हो चुके हैं परंतु इसे अभी तक आरम्भ नही किया गया है ।स्थानीय संस्थाओं ने भी कई बार प्रशासन व नगर पंचायत को इस बारे में लिखा परन्तु इस बारे में कोई भी कदम नहीं उठाया गया है । लोगों ने प्रशासन व नगर पंचायत से मांग की है कि इन आवारा सांडों के आतंक से अर्की की जनता को निजात दिलाई जाए ।
इस बारे में जब एस डी एम अर्की व नगर पंचायत सचिव विकास शुक्ला से बात की गई तो उनका कहना था कि गौशाला बनाने के लिए मन्जयाट के पास जमीन ले ली गई है। जल्द ही गौशाला का कार्य शुरू कर जितने भी बेसहारा पशु है उन्हें उस गौशाला में रखा जाएगा। ताकि लोगों को इनके आतंक से निजात मिल सके।