दशहरा उत्सव के लिए तैयारियां शुरू करें विभाग: डा. ऋचा

56

रेणुका गौतम
8 से 14 अक्तूबर तक मनाया जाएगा कुल्लू का अंतर्राष्ट्रीय दशहरा उत्सव
उपायुक्त ने आवश्यक प्रबंधों को लेकर विभागीय अधिकारियों से की चर्चा
कुल्लू
: कुल्लू का प्रसिद्ध अंतर्राष्ट्रीय दशहरा उत्सव इस वर्ष 8 से 14 अक्तूबर तक मनाया जाएगा। जिला प्रशासन और अंतर्राष्ट्रीय दशहरा उत्सव समिति ने इसकी तैयारियां आरंभ कर दी हैं। उपायुक्त डा. ऋचा वर्मा ने मंगलवार को जिला परिषद के सम्मेलन कक्ष में विभिन्न विभागों और नगर परिषद के अधिकारियों के साथ बैठक करके अंतर्राष्ट्रीय दशहरा उत्सव की तैयारियों की समीक्षा की तथा अधिकारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश जारी किए।
डा. ऋचा वर्मा ने कहा कि कुल्लू शहर में सड़कों, बिजली और पेयजल लाईनों की मरम्मत, सफाई व्यवस्था, ढालपुर मैदान और देवी-देवताओं के अस्थायी स्थलों के सौंदर्यीकरण के कार्य सितंबर में ही पूरे हो जाने चाहिए। उन्होंने बताया कि दशहरा उत्सव के लिए जिला के देवी-देवताओं को आयोजन समिति की ओर निमंत्रण पत्र भेजे जा रहे हैं। उपायुक्त ने कहा कि देवी-देवता ही कुल्लू के दशहरा उत्सव की शान हैं। देवी-देवताओं और इनके साथ आने वाले देवलुओं को आयोजन समिति की ओर से सभी आवश्यक सुविधाएं मुहैया करवाई जाएंगी। उन्होंने विभागीय अधिकारियों से कहा कि इन सुविधाओं में किसी प्रकार की कमी नहीं होनी चाहिए।
उपायुक्त ने बताया कि मेला स्थल पर प्लाट आवंटन 25 सितंबर से आरंभ कर दिया जाएगा और आवंटन प्रक्रिया में पूरी पारदर्शिता सुनिश्चित की जाएगी। मेला स्थल पर किसी भी तरह की दुर्घटना को रोकने के लिए आवश्यक प्रबंध किए जाएंगे। अग्निशमन विभाग के मानकों के अनुसार ही दुकानें और अन्य स्टाॅल लगाने की अनुमति प्रदान की जाएगी। सफाई व्यवस्था बनाए रखने के लिए मेला स्थल पर पर्याप्त कूड़ेदान और अस्थायी शौचालय स्थापित किए जाएंगे तथा नगर परिषद के माध्यम से अतिरिक्त सफाई कर्मी तैनात किए जाएंगे। सुरक्षा तथा यातायात प्रबंधों को लेकर जिला पुलिस एक व्यापक प्लान तैयार करेगी तथा शहर में पर्याप्त संख्या में सीसीटीवी कैमरे स्थापित किए जाएंगे।
उत्सव के दौरान आयोजित की जाने वाली सांस्कृतिक संध्याओं के लिए देश-विदेश के सांस्कृतिक दलों को आमंत्रित करने हेेतु भारतीय सांस्कृतिक संबंध परिषद और विभिन्न प्रदेशों से पत्राचार किया जा रहा है। बैठक मंे दशहरा उत्सव के लिए अन्य आवश्यक प्रबंधों को लेकर भी विस्तार से चर्चा की गई। उपायुक्त ने कहा कि प्रदेश सरकार के निर्देशानुसार शीघ्र ही दशहरा उत्सव समिति की राज्य स्तरीय बैठक होगी, जिसमें उत्सव की रूपरेखा को अंतिम रूप दिया जाएगा।
ये भी रहे उपस्थित
इस अवसर पर एसपी गौरव सिंह, एडीएम अक्षय सूद, एसडीएम अनुराग चंद्र शर्मा, होमगार्ड के कमांडेंट निश्चिंत सिंह नेगी, सहायक आयुक्त एसपी जसवाल, जिला राजस्व अधिकारी राजेश भंडारी और अन्य अधिकारियों ने भी महत्वपूर्ण सुझाव रखे।
बेली पुल की मरम्मत का प्राक्कलन तैयार करे पीडब्ल्यूडी
उपायुक्त ने कहा कि क्षतिग्रस्त भूतनाथ पुल की मरम्मत दशहरा उत्सव तक फिलहाल संभव नहीं होगी। इसलिए लोक निर्माण विभाग अखाड़ा बाजार के बेली पुल के क्षतिग्रस्त अप्रोच रोड की मरम्मत या इस पुल को लेफ्ट बैंक तक बढ़ाने की संभावनाएं तलाश करे और अतिशीघ्र इसका प्राक्कलन तैयार करे। उन्होंने कहा कि शहर में विशेषकर दशहरा उत्सव के दौरान यातायात व्यवस्था को सुचारू बनाए रखने के लिए बेली पुल को अतिशीघ्र बहाल करना अत्यंत आवश्यक है। लोक निर्माण विभाग के अधिकारी इस दिशा में तेजी से कार्य करें।